Agneepath Scheme मे सरकार ने किए बदलाव

Agneepath Scheme

Agneepath Scheme अग्निपथ योजना के तहत सेना में शामिल होने के मानदंड पहले की तुलना में आसान कर दिए गए हैं। पहले इसे सामान्य सेना भर्ती योग्यता से कुछ अधिक कठोर रखा गया था, लेकिन अब इन मानदंडों को एक समान कर दिया गया है। सेना ने इस संबंध में नई नीति जारी की है. हालाँकि, नई नीति जारी होने से पहले ही, अग्निवीरों का पहला बैच अपना प्रशिक्षण पूरा कर चुका था और अपनी-अपनी इकाइयों में शामिल हो गया था।

क्या है नए बदलाव Agneepath Scheme मे ?

इन सभी की प्रथम वर्ष की योग्यता का मूल्यांकन पुरानी नीति यानी सख्त मानदंडों के अनुसार किया गया है।अग्निवीर का मूल्यांकन पहले साल प्रशिक्षण केंद्र में और फिर तीन साल तक यूनिट में किया जाना है। एक नियमित सैनिक के लिए उसे 5000 फीट की ऊंचाई पर 5 किमी की दौड़ 25 से 28 मिनट में पूरी करनी होती है।

जबकि Agneepath Scheme मे इस रेस को 23 मिनट में पूरा कर अति उत्कृष्ट की श्रेणी में आता है। साथ ही, यदि नियमित सैनिक 25 मिनट या उससे कम समय में दौड़ पूरी कर लें तो यह उत्कृष्ट होगा। 23 मिनट में दौड़ पूरी करने की कोई श्रेणी नहीं है।

ये भी पढ़ें: “UPI NOW, PAY LATER” पैसे नहीं हैं… फिर भी कर सकते है पेमेंट

नोट- new news update’s के लिए WhatsApp और telegram group join करे

उल्लेखनीय है कि अग्निवीर सैनिकों का एक पूरा जत्था अतिउत्कृष्ट मानदंडों के माध्यम से ही यूनिट तक पहुंचा है। हालांकि, सेना के एक अधिकारी ने कहा कि फाइनल मार्किंग में इसे सही कर लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें: ‘लोन ऐप्स’ बैन होंगे भारत में पूरी तरह, सरकार का बड़ा फैसला

अग्निपथ योजना एक भारतीय सेना योजना है जिसके तहत सेना में शामिल होने वाले युवाओं को ‘अग्निवीर’ के नाम से जाना जाता है। इस योजना के तहत सेना में शामिल होने वाले युवाओं को 4 साल के लिए सेना में सेवा करने का अवसर मिलता है और सेवा अवधि पूरी होने पर उन्हें 11.71 लाख रुपए कर मुक्त सेवा निधि पैकेज मिलता है। इस योजना के तहत सेना में शामिल होने के लिए युवाओं की उम्र 17 से 21 वर्ष के बीच होनी चाहिए। इस योजना के तहत सेना में शामिल होने के लिए युवाओं को अपनी योग्यता के आधार पर चयनित किया जाता है।

One thought on “Agneepath Scheme मे सरकार ने किए बदलाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *