कूड़ेदान में फेकी गई लड़की ऑस्ट्रेलिया की cricket captain Lisa Sthalekar

cricket captain Lisa Sthalekar

कूड़ेदान में फेकी गई लड़की बनी ऑस्ट्रेलिया की cricket captain Lisa Sthalekar जिस लड़की को पैदा होने के बाद कुड़ेदान में फेंक दिया गया था, वही अब ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की कप्तान बनी है। पुणे शहर में ‘श्रीवास्तव अनाथालय’ ( Shreevatsa ) नामक एक अनाथालय में उसे शरण मिली थी। 13 अगस्त 1979 को जन्मी, उसके माता-पिता ने उसे अनाथालय की फेंक दान कर दिया था। उस अनाथालय के प्रबंधक ने उसका नाम ‘लैला’ रखा। laila का पूरा नाम Lisa Carprini Sthalekar है और nickname Shaker है । 

अमेरिकन जोड़े हरेन और सू ने भारत आकर एक लड़के को गोद लेने का निर्णय लिया था, लेकिन उन्होंने लैला को देखकर उसे उससे प्यार हो गया। कानूनी कार्रवाई के बाद, वे उसे अपने पास ले गए और उसका नाम ‘लिज’ रख दिया। वे बाद में सिडनी स्थानिक बन गए।

Lisa Sthalekar के पिता ने उसे क्रिकेट खेलना सिखाया, जो पार्क से शुरू होकर गली के लड़कों के साथ खेलने तक पहुंचा। उसका खेलने के प्रति जुनून अत्यधिक था, लेकिन उसने अपने शैक्षिक लक्ष्यों को भी पूरा किया। उसने अपनी पढ़ाई पूरी की और उसका खेलने का प्रकार बदलता गया। lisa Sthalekar Right Hand प्लेयर है और allrounder है । 

उसके करियर की महत्वपूर्ण घटनाएँ:

• 1997: पहला one day मैच, न्यू-साउथ वेल्स के साथ
• 2001: Australia के लिए पहला ODI मैच
• 2003: ऑस्ट्रेलिया के लिए पहला टेस्ट मैच
• 2005: ऑस्ट्रेलिया के लिए पहला T20 मैच

cricket match

cricket captain Lisa Sthalekar ने 8 टेस्ट मैच में 416 रन और 23 विकेट , 125 ODI में 2728 रन और 146 विकेट ली , और 54 T20 क्रिकेट मैचो में 769 रन और 60 विकेट हासिल किए । वे पहली महिला क्रिकेटर बनीं जिन्होंने ODI में 1000 रन और 100 विकेट हासिल किए ।

उनके ऑलराउंडर कौशलों ने उन्हें ICC की रैंकिंग में दुनिया के नंबर वन पर पहुंचाया । जब ICCका रैंकिंग सिस्टेम चालू हुआ था तब बह दुनिया की पहले दर्जे की allrounder थी । उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई टीम का कप्तानी का कार्य भी निभाया। बह चार बार one day और T20 World Cup की पार्टनर भी बनी ।

World cup

Lisa Sthalekar 2013 में उनकी टीम ने क्रिकेट विश्व कप जीता, और उसके अगले दिन उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया ।30 अगस्त 2020 को ICC ने उन्हें अपने हॉल ऑफ फेम ( ICC Cricket Hall of Fame) में शामिल कर के क्रिकेट जगत को एक अनमोल तोहफा दे दिया ।

Laila से Lisa बनने का सफर बेटियों को कोख मे कत्ल करने वाले समाज को समज आए या न आए मगर बह अपने आसपास रहने बालों को जरूर कुछ सिख रही है के बेटियाँ कभी बोझ नहीं होती बह तो एक बरकत होती है दोस्तों ।


ऐसी अद्भुत यात्रा की एक बेहद प्रेरणादायक कहानी! इसलिए हमेशा हमें अपनी बेटियों का समर्थन करना चाहिए ।
कृपया इस हकीकत को अपनों से भी शेयर करे ।
धन्यवाद

also read this: रक्षाबंधन 2023: (रक्षा-सूत्र ) का वैदिक महत्व

5 thoughts on “कूड़ेदान में फेकी गई लड़की ऑस्ट्रेलिया की cricket captain Lisa Sthalekar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *